भारतीय : रेलवे ने यात्रियों को दी नई सुविधा, मौजूदा दरों पर मिलेगी भारतीय रेलवे ने यात्रियों के लिए एक नई सुविधा दी है।

भारतीय रेलवे ने यात्रियों के लिए एक नई सुविधा दी है। इसके तहत अगर किसी यात्री ने ट्रेन टिकट बुक करते समय खाने के विकल्प पर क्लिक नहीं किया है और यात्रा के दौरान चाय, कॉफी या पानी लेता है तो उससे 50 रुपये का सर्विस चार्ज नहीं लिया जाएगा।

भारतीय रेलवे: अगर आप अक्सर ट्रेन से सफर करते हैं तो यह खबर आपके काम आ सकती है। भारतीय रेलवे ने यात्रियों को राहत देते हुए खाने पर लगने वाला सर्विस चार्ज खत्म कर दिया है. इस मामले को लेकर रेल मंत्रालय ने इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) को सर्कुलर जारी किया है. अभी तक यह नियम था कि यात्रा के दौरान खाने-पीने का ऑर्डर देने के लिए आईआरसीटीसी यात्रियों से 50 रुपये सर्विस चार्ज लेता था।

यात्री देते थे सर्विस चार्ज

अगर कोई यात्री ट्रेन टिकट बुक करते समय खाने के विकल्प पर क्लिक नहीं करता था और यात्रा के दौरान खाने-पीने का सामान लेता था तो आईआरसीटीसी उससे 50 रुपये वसूल करता था। लेकिन अब यात्रियों को चाय-पानी मौजूदा कीमत पर ही मिलेगा. इसके लिए कोई सर्विस चार्ज नहीं देना होगा, लेकिन खाने-पीने के लिए 50 रुपये सर्विस चार्ज के तौर पर देने होंगे। चाय और पानी पर सर्विस चार्ज राजधानी, दुरंतो, शताब्दी और वंदे भारत ट्रेनों में यात्रा करने पर लगाया जाता था।

कई यात्रियों ने रेलवे से शिकायत की थी कि इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (IRCTC) यात्रा के दौरान कॉफी और चाय के लिए 70 रुपये चार्ज करता था। यानी अगर चाय की कीमत 20 रुपये थी तो उस पर 50 रुपये सर्विस चार्ज लगता था. लेकिन नए नियम लागू होने के बाद 20 रुपये की चाय 20 रुपये में ही मिलेगी. लेकिन अगर आप सफर के दौरान खाना ऑर्डर करते हैं तो उस पर 50 रुपये सर्विस चार्ज देना होगा।

बता दें कि उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय की ओर से दिए गए बयान के बाद रेलवे की ओर से यह कदम उठाया गया है. हाल ही में उपभोक्ता मामलों के मंत्रालय ने एक आदेश में कहा कि ”सर्विस चार्ज की मांग करना गलत है. किसी भी होटल या रेस्टोरेंट को सर्विस चार्ज नहीं लेना चाहिए.’

बता दें कि इसी महीने सेंट्रल कंज्यूमर प्रोटेक्शन अथॉरिटी (सीसीपीए) ने रेलवे को सर्विस चार्ज को लेकर आदेश दिए थे. प्राधिकरण ने बिल में अपने द्वारा लगाए गए बिल को अवैध करार दिया है। इस आदेश के बाद कोई भी होटल या रेस्टोरेंट ग्राहक को सर्विस चार्ज देने के लिए बाध्य नहीं कर सकता है। यह ग्राहक पर निर्भर करेगा कि वह सर्विस चार्ज का भुगतान करता है या नहीं।

कृषि विभाग भर्ती 2022: विभिन्न पदों पर आए 700 पद, 10वीं 12वीं पास के लिए करें आवेदन, जानिए प्रक्रिया